यूपी में 27 अगस्त को होगा जिला योजना समिति के सदस्यों का नामांकन, 1435 चुने जाएंगे

27 अगस्त से शुरू होने वाली चुनाव की प्रक्रिया में जिला पंचायत के सदस्य आपस में कुल 1435 ही जिला योजना समिति के सदस्य चुनेंगे। बाकी में राज्य सरकार की ओर से भी नामित होते हैं।

Ajay MishraAjay Mishra   23 Aug 2021 9:43 AM GMT

यूपी में 27 अगस्त को होगा जिला योजना समिति के सदस्यों का नामांकन, 1435 चुने जाएंगे

यूपी में ग्रामीण जनसंख्या के अनुपात में जिला योजना समिति के लिए जिला पंचायत सदस्य से निर्वाचित होने वाले सदस्यों की संख्या 1435 है। फोटो: पिक्साबे

लखनऊ। यूपी में जिला योजना समिति के सदस्यों का निर्वाचन का ऐलान हो चुका है। 27 अगस्त को नामांकन पत्र दाखिल किए जाएंगे। गौतमबुद्धनगर को छोड़कर 74 जिलों में प्रक्रिया चलेगी। कुल 1435 सदस्य चुने जाएंगे।

राज्य निर्वाचन आयुक्त मनोज कुमार की ओर से विशेष कार्याधिकारी एसके सिंह ने जारी किए पत्र में कहा है कि प्रदेश में जिला योजना समिति अधिनियम, 1999 की धारा आठ के अधीन प्राप्त शक्तियों का प्रयोग करते हुए सभी जिला पंचायत के निर्वाचित सदस्यों में से जिला योजना समितियों के सदस्यों का निर्वाचन, जिसमें गौतमबुद्धनगर को छोड़कर कराया जाएगा। जिला पंचायत सदस्य ही जिला योजना समिति के सदस्य आपस में चुनेंगे।

यूपी में ग्रामीण जनसंख्या के अनुपात में जिला योजना समिति के लिए जिला पंचायत सदस्य से निर्वाचित होने वाले सदस्यों की संख्या 1435 है। इसमें अनारक्षित सदस्य 476, अनारक्षित महिला 238, अन्य पिछड़ा वर्ग के 253, अन्य पिछड़ा वर्ग महिला के 128, अनुसूचित जाति के 227 और अनुसूचित जाति महिला के 113 सदस्य चुने जाएंगे।

हालांकि आयुक्त के पत्र में जिला योजना समिति के लिए सदस्यों की कुल संख्या अधिनियम की धारा-चार की उपधारा दो के अधीन कुल सदस्यों की संख्या 2225 है। इसमें आयोग की ओर से निवार्चित किए जाने वाले सदस्यों की संख्या 1780 है। हालांकि 27 अगस्त से शुरू होने वाली चुनाव की प्रक्रिया में जिला पंचायत के सदस्य आपस में कुल 1435 ही जिला योजना समिति के सदस्य चुनेंगे। बाकी में राज्य सरकार की ओर से भी नामित होते हैं। इसमें जिलों के प्रभारी मंत्री, डीएम, सीडीओ, अर्थ एवं संख्या अधिकारी व राज्य सरकार की ओर से नामित होंगे। इसके अलावा जिला मुख्यालय की नगर पालिका, नगर पंचायत या नगर निगम से भी प्रतिनिधि चुने जाएंगे।

कुछ इस तरह चलेगी चुनाव की प्रक्रिया

27 अगस्त को सुबह 11 बजे से दोपहर चार बजे तक जिला मजिस्ट्रेट न्यायालय कक्ष में नामांकन होंगे।

27 अगस्त को ही दोपहर बाद चार बजे से नामांकन पत्रों की जांच होगी।

31 अगस्त को सुबह 11 से दोपहर तीन बजे तक नामांकन पत्रों की वापसी ली जा सकेगी।

तीन सितम्बर को सुबह आठ से दोपहर तीन बजे तक मतदान होगा।

तीन सितम्बर को दोपहर तीन बजे के बाद मतगणना होगी।

क्या कहते हैं जानकार

यूपी के कन्नौज से सहायक जिला निर्वाचन अधिकारी बिनीत कटियार ने बताया कि जिला योजना समिति के सदस्यों के चुनाव के लिए अनारक्षित वर्ग को नामांकन पत्र 500 रुपए में और अनारक्षित या महिला को 250 रुपए में मिलेगा। उन्होंने बताया कि कन्नौज में कुल जिला पंचायत के 28 सदस्य हैं, इसमें अध्यक्ष भी शामिल हैं, जो आपस में जिला योजना समिति के सदस्य चुनेंगे। कुल क्षमता 25 सदस्य चुनने की है। इसमें 17 का निर्वाचन सदस्यों के जरिए होगा। पांच में मंत्री, अधिकारी आदि होंगे। तीन नगर निकाय से होंगे। निकाय की समिति अभी है, समय आने पर निर्वाचन होगा।

क्या है जिला योजना समिति

पंचायतों और नगर पालिकाओं द्वारा तैयार की जाने वाली योजनाओं को समेकित करने और पूरे जिले की विकास योजना की रूप रेखा तैयार करने के लिए सरकार देश के सभी जिलों में एक जिला योजना समिति का निर्माण करती है। देश के सभी प्रदेशों में और सभी राज्यों के सभी जिलों में इसका गठन किया गया। इससे देश के सभी क्षेत्रों में विकास संबंधी कार्यों में तेजी देखने को मिली है |

इस समिति के द्वारा ही जिले के सम्पूर्ण विकास की योजना तैयार की जाती है। जैसे जिले के स्कूल शिक्षा, लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण, महिला एवं बाल विकास, पंचायत एवं ग्रामीण विकास, ऊर्जा, अनुसूचित जाति व जनजाति व अन्य संबंधित सभी विभागों के अंतर्गत होने वाले कार्यों के लिए कार्ययोजना बनाने में इस समिति के सदस्यों के विचारों को शामिल किया जाता है।

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.