Top

उत्तर प्रदेश में पिछले 24 घंटे में कोरोना संक्रमण के 13,685 नए मामले आए

उत्तर प्रदेश में पिछले 24 घंटे में कोरोना संक्रमण के 13,685 नए मामले आए

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कोरोना संक्रमण को लेकर अधिकारियों के साथ बैठक की। फोटो: सीएम ट्वीटर

प्रदेश में कोरोना के कुल एक्टिव मामलों में संख्या अब 81,576 हो गई है। कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश में लॉकडाउन की संभावना से इनकार कर दिया है। सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हमें जीवन भी बचाना है और जीविका भी बचाना है।

प्रदेश की राजधानी लखनऊ में पिछले 24 घंटों में 3892 नए मामले आए हैं और 24 लोगों की कोरोना से मौत हो गई है, जबकि पूरे प्रदेश में पिछले 24 घंटे में कोरोना से 72 मौतें हुईं हैं।

सीएम योगी ने राजधानी लखनऊ में संक्रमण के मामलों में बढ़ोतरी को देखते हुए पुलिस कमिश्नर लखनऊ को निर्देश दिया है कि धार्मिक स्थलों में पांच से अधिक लोगों को एक साथ प्रवेश की अनुमति नहीं दी जाए। बाजारों में व्यापारियों से बातचीत करके उनका सहयोग लेते हुए सुरक्षित दूरी का पालन कराया जाए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि हम जनता को मरने नहीं देंगे। साथ ही उन्होंने साफ शब्दों में अफसरों को कहा कि कहीं से भी बेड को लेकर शिकायत नहीं मिलनी चाहिए। स्थिति को देखते हुए पहले से पूरी तरह तैयारी कर लें। मुख्यमंत्री ने आगे कहा कि जरुरत के अनुसार निजी अस्पतालों और मेडिकल कॉलेजों को टेकओवर किया जाए। सभी जिलों में टेस्टिंग, ट्रैसिंग और ट्रीटमेंट पर जोर दिया जाए।

मुख्यमंत्री ने नाराजगी जताई की कुछ अस्पताल और मेडिकल कॉलेज निर्धारित दरों से ज्यादा वसूली कर रहे हैं। उन्होंने इन पर कार्रवाई करने के भी निर्देश दिए हैं। किसी को भी मजबूरी का फायदा नहीं उठाने दिया जाएगा। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि इसके लिए निजी लैब से सहयोग लिया जाए और जरूरत पड़ने पर टेकओवर किया जाए। इसके लिए लैब को पैमेंट भी की जाए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि मेरी अपील है कि हम कोरोना प्रोटोकॉल का अनिवार्य रूप से पालन करें। अगले कुछ दिनों में बासंतिक नवरात्र व रमजान प्रारंभ हो रहे हैं। धर्मस्थलों पर जो निर्धारित संख्या है उससे ज्यादा न जाएं, भीड़भाड़ न हो।

हर हाल में भीड़ से बचना है। धार्मिक स्थलों पर एक साथ न जाएं। नगरीय क्षेत्रों में संक्रमण ज्यादा है। कंटेन्मेंट जोन को सफलतापूर्वक लागू करने के लिए निजी संस्थाओं के साथ तेजी के साथ आगे बढ़ना जरूरी है।

लखनऊ के दो निजी अस्पतालों में बढ़ेगी बेड की संख्या

मुख्यमंत्री ने कहा कि लखनऊ के हिंद इंस्टिट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस और मेयो मेडिकल सेंटर में कोविड बेड बढ़ाए जाएं। इसी तरह अन्य निजी मेडिकल कॉलेजों में भी कोविड बेड्स स्थापित करने की व्यवस्था की जाए। कैंसर अस्पताल को भी डेडीकेटेड कोविड हॉस्पिटल में परिवर्तित करें।

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.