कोरोना इलाज को लेकर बीजेपी विधायक की फेसबुक पोस्ट हो रही है वायरल

हर दिन कोरोना के मामले बढ़ते जा रहे हैं, अस्पताल में जगह नहीं है, उन्नाव के सदर विधायक पंकज गुप्ता ने फेसबुक पर एक पोस्ट लिखी है, कि किस तरह से लोगों को अस्पताल में बेड नहीं मिल रहे हैं, लोगों को सावधान रहने की जरूरत है।

कोरोना इलाज को लेकर बीजेपी विधायक की फेसबुक पोस्ट हो रही है वायरल

"मैं कल से सोच रहा हूं कि कुछ लिखूं पर कुछ कारणों से नहीं लिखा, किंतु लिखता हूं, क्योंकि यह मेरा दायित्व है की जनता तक सीधी जानकारी जानी चाहिए और सभी को न्याय मिलना चाहिए चाहे वो अमीर हो ग़रीब हो या वीआईपी हो।

मित्रों कल हमारी एक करोना फ़ाइटर आंगनवाड़ी कार्यकर्ता की कोरोना व समय से इलाज ना मिल पाने के कारण मृत्यु हो गई, मैं स्वयं इसका गवाह हूं कल दोपहर को गिरिजाबाग़ निवासी आंगनवाड़ी कार्यकर्ता के पुत्र देवेश निगम का हमारे पास फ़ोन आता है कि मेरी माता जी की हालत ख़राब हो रही उन्हें कानपुर मेडिकल कॉलेज रेफ़र कर रहे हैं, वहां पहुंचने पर उन्हें बताया गया की वहां जगह नहीं है, मैंने स्वयं सीएमएस ऋचा गिरी जी को फ़ोन किया, उन्होंने असमर्थता जताई तो मैंने प्राइवेट अस्पताल नारायणा फ़ोन किया जो नहीं उठा फिर जीटीबी फ़ोन किया वहां भी फ़ुल था।

फिर एसपी एम के दीपक श्रीवास्तव जी से बात की उन्होंने कहा कि आप भेज दो जगह है पर कानपुर के सीएमओ या अन्य किसी से कहलाना पड़ेगा, क्योंकि यही नियम है मैंने तत्काल सीएमओ कानपुर को फ़ोन किया उनका कल ही ट्रान्सफर हो गया था कहा गया एसीएमओ से बात करें, फिर हमने एसीएओ एके सिंह को फ़ोन किया, उन्होंने कहा यह काम मैं नहीं एसीएमओ सुबोध यादव देखते हैं तब मैंने एसीएमओ सुबोध यादव को फ़ोन किया उनको पूरी बात बताई उन्होंने कहा मैं कहता हूं, पर कुछ नहीं किया इसपर फिर मैंने फ़ोन कई बार किया पर उन्होंने फ़ोन नहीं उठाया और काटते रहे इसी बीच दो घण्टे बीत गए और उनकी मृत्यु हो गई।

वहीं दूसरी ओर मेरे मित्र जसमीत अरोरा और उनके पूरे परिवार को कोरोना हो गया उनकी मां की तबियत ख़राब हो गई और पीजीआई भेजने के लिए कहा मैंने बात की तो कहा गया की बेड की शॉर्टेज है परिवार का हो तो भेज दे ख़ैर वहां यह बताकर की परिवार के हैं एडमिट हो गई। यह बातें मैंने इसलिए लिखी की अब स्थिति नियंत्रण के बाहर हो रही है हमें बहुत सावधान रहने की आवश्यकता है और ऐसी स्थिति हम सब क्या कर सकते हैं सुझाव भी दे और जनता को जागरूक भी करें।

ये भी पढ़ें: कोविड मरीजों का इलाज कर रहे डॉक्टर की युवाओं से अपील, कोरोना से लड़ाई में सहयोग देने के लिए तैयार रहें

ये भी पढ़ें: बिहार के कोविड 19 डेडिकेटेड अस्पताल से लाइव: चिंता, निराशा और हताशा की अंतहीन कहानी

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.